Motivational Stories

Wilma Rudolph inspirational Story in Hindi

Wilma Rudolph inspirational Story in Hindi

मैं आज आपके सामने पेश कर रहा हूँ एक ऐसी लड़की की कहानी जिसने बहुत अभावों, गरीबी से निकलकर आसमान की बुलंदियों को छुआ है | उस लड़की का नाम है विल्मा रुडोल्फ | विल्मा का जन्म 1939 में अमेरिका के टेनेसी राज्य के एक गरीब परिवार में हुआ था| विल्मा के पिता रुडोल्फ एक कुली थे तथा माँ एक सर्वेंट थी | चार साल की उम्र में विल्मा को बुखार और निमोनिया हो गया जिससे उसे पोलियो हो गया और वह विकलांग हो गई| उसे पैरों में लोहे के ब्रेस पहनने पड़े | काफी इलाज के बाद डॉकटरों ने भी हार मान ली और कह दिया कि वह कभी भी बिना ब्रेस के नहीं चल नहीं पायेगी। विल्मा की माँ एक सकारात्मक मनोवृत्ति की महिला थी | विल्मा का मनोबल बना रहे इसलिए उसकी माँ ने उसका एक स्कूल में दाखिला करा दिया | उन्होंने उसका हौसला बढ़ाया तथा कहा कि इस संसार में कुछ भी नामुमकिन नहीं है, तुम जो चाहो प्राप्त कर सकती हो | विल्मा ने अपनी माँ से कहा – ‘क्या मैं दुनिया की सबसे तेज दौड़ने वाली महिला बन सकती हूं ?’’इस पर माँ ने विल्मा से कहा कि ईश्वर पर विश्वास, मेहनत और लगन से तुम जो चाहो बन सकती… Read More »

Sandeep Maheshwari inspirational story in Hindi

Sandeep Maheshwari inspirational story in Hindi

दिल्ली का एक Middle class लड़का, किराए के दो कमरे के छोटे से मकान में रहता था, जब बहुत छोटा था तब पड़ोस के एक बच्चे के पास लाल साइकिल देखकर मन मचल गया, पिता से साइकिल दिलाने की जिद्द की; जवाब आया “ मैं कोई टाटा–बिड़ला नहीं हूँ जो इसकी सारी फ़रमाइशें पूरी करता रहूँ।” माँ से पूछा, “ ये टाटा-बिड़ला क्या होता है?” “ये ऐसे लोग होते हैं जिनके पास ढेर सारे पैसे होते हैं।”, माँ ने पीछा छुड़ाते हुए कहा। बच्चे ने फैसला किया कि वो बड़ा होकर “टाटा-बिड़ला” बनेगा। मगर लोग उसका मजाक उड़ाने लगे, जोकि ज्यादातर हम लोगो में से ऐसा करते है । जब जब वह लड़का 15-16 साल का हुआ तब उनके परिवार पर एक बड़ी मुसीबत आ गयी, उनके पिता का 20 साल पुराना Aluminium  का Business था, Partner  से हुई कुछ अनबन की वजह से उन्हें वो Business  छोड़ना पड़ा।ये एक बड़ा संकट था, जब पैसा कम होता है तो परेशानियाँ अधिक हो जाती हैं। वह लड़का और उसका पूरा परिवार ऐसी तमाम मुसीबतो से जूझ रहा था। । पिताजी भी depression में रहने लगे। उस लड़के को लगा  कि उसे  कुछ करना चाहिए, वो परिवार के साथ मिल कर छोटे-मोटे काम करने लगा — माँ ने खजूर के पान बनाये, जिन्हें उस लड़के… Read More »

मन को शांति और हमे सफलता कैसे मिलेगी।

hindi motivational story

आज की दुनिया में हर इंसान सिर्फ अपना अपना देखने में लगा है। किसी को भी किसी और की चिंता नहीं है। थोड़ी सी भी दया आज किसी में बची नहीं है कभी धर्म के नाम पर लड़ रहे है तो कभी दौलत और लालच के नाम पर तो कभी अमीरी गरीबी के नाम पर ,….बस एकता और भाईचारे को तो जैसे हमने ज़मीं में दफ़न ही कर दिया है। दोस्तों वाकई अगर हम सब एक हो जाए तो किसी देश की इतनी हिम्मत नहीं की वो हमारी तरफ आँख उठा कर भी देख सके घर में घुसने की तो बात ही छोड़ दो । बस एक बार अगर हिन्दू, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई आपस मे है सब भाई भाई का नारा एक आवाज में लग जाए और हम सब देश के प्रति ,लोगो के प्रति, समाज के प्रति परिवार के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझ ले दोस्तों और जान ले की अगर हम सब एक साथ नहीं रहे तो हमारा देश और हम सब अपनी ताकत खो देंगे। शायद हम खुद ही अपने देश, अपने संस्कार , अपने समाज और अपने आप को खोखला और कमजोर कर रहे है। कोशिश करता हूँ एक कहानी के माध्यम से समझने की – एक बार एक शरीर की… Read More »

CHANGE-बदलाव

CHANGE-बदलाव hindi motivational story

बदलाव – इस  शब्द का मतलब हम सब जानते है लेकिन इस शब्द को जिंदगी में कम लोग ही उतारते है या उतार पाते है। आइए पहले जानते है की आखिर बदलाव है क्या और इसका हमारी जिंदगी में कितना महत्व है ? दोस्तों १ लाख साल पहले जब से इंसान ने बोलना सीखा तब से लेकर आज तब पूरी दुनिया में अथाह बदलाव हुए क्यों ? क्योकि समझदार इंसान , अपने आस पास की हर चीज़ को बदल रहा है। जैसे कपडे पहनने का तरीका, खाने का तरीका , नहाने का तरीका , काम करने का तरीका , पढ़ाई – लिखाई का तरीका , सोने का तरीका , धोने का तरीका ,बाहर की दुनिया तो बदल ही रहा है मगर साथ  साथ वो अंदर की दुनिया भी बदल रहा है  – उसकी सोच बदल रही है , उसका काम करने का तरीका बदल रहा है , उसका दिमाग बदल रहा। ……यह सभी चीज़ समझदार इंसान बदल रहा है। पहले परिवार बड़े हुवा करते थे आज छोटे और छोटे होते जा रहे है। पहले माल बेचने के तरीके अलग थे लेकिन आज अलग है। पहले एक काम को करने में घंटो लगते थे आज वही काम मिन्टो में हो जाते है। हर चीज़ बदल रही है सिर्फ… Read More »

Amitabh Bachchan Biography in Hindi

amitabh bachchan qualification amitabh bachchan's first film amitabh bachchan biography in hindi language amitabh bachchan biography in hindi, amitabh bachchan life in hindi,amitabh bachchan history in hindi

इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश, में जन्मे Amitabh Bachchan हिंदू कायस्थ परिवार से संबंध रखते हैं। उनके पिता, डॉ॰ हरिवंश राय बच्चन प्रसिद्ध हिन्दी कवि थे, जबकि उनकी माँ तेजी बच्चन कराची के सिख परिवार से संबंध रखती थीं।आरंभ में बच्चन का नाम इंकलाब रखा गया था जो भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान प्रयोग में किए गए प्रेरित वाक्यांश इंकलाब जिंदाबाद से लिया गया था। लेकिन बाद में इनका फिर से अमिताभ नाम रख दिया गया जिसका अर्थ है, “ऐसा प्रकाश जो कभी नहीं बुझेगा”। यद्यपि इनका अंतिम नाम श्रीवास्तव था फिर भी इनके पिता ने इस उपनाम को अपने कृतियों को प्रकाशित करने वाले बच्चन नाम से उद्धृत किया। यह उनका अंतिम नाम ही है जिसके साथ उन्होंने फिल्मों में एवं सभी सार्वजनिक प्रयोजनों के लिए उपयोग किया। अब यह उनके परिवार के समस्त सदस्यों का उपनाम बन गया है। अमिताभ, हरिवंश राय बच्चन के दो बेटों में सबसे बड़े हैं। उनके दूसरे बेटे का नाम अजिताभ है। इनकी माता की थिएटर में गहरी रुचि थी और उन्हें फिल्म में भी रोल की पेशकश की गई थी किंतु इन्होंने गृहणि बनना ही पसंद किया। अमिताभ के करियर के चुनाव में इनकी माता का भी कुछ हिस्सा था क्योंकि वे हमेशा इस बात पर भी जोर देती थी कि… Read More »

A. P. J. Abdul Kalam Biography In Hindi

abdul kalam biography in hindi, history of abdul kalam , life of abdul kalam in hindi , inspirational srory of abdul kalam in hindi

अबुल पाकिर जैनुलाबदीन अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 में एक तमिल मुस्लिम परिवार में तीर्थयात्रा के दौरान, पम्बन द्वीप पर रामेश्वरम में हुआ, जो पहले मद्रास में था और अब वह तमिलनाडु राज्य में है….. उनके पिता एक नाव चालक और पास ही की स्थानिक मस्जिद के इमाम थे, उनकी माता अशींमा गृहिणी थी….. Abdul kalam  संयुक्त परिवार में रहते थे। परिवार की सदस्य संख्या का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि यह स्वयं पाँच भाई एवं पाँच बहन थे और घर में तीन परिवार रहा करते थे।Abdul kalam  के life  पर इनके पिता का बहुत प्रभाव रहा। वे भले ही पढ़े-लिखे नहीं थे, लेकिन उनकी लगन और उनके दिए संस्कार abdul kalam के बहुत काम आए।  कलाम  भाइयो में सबसे छोटे थे … उनके पूर्वक जमींदार थे और बहोत आमिर भी थे उन्होंने उनके लिए बहोत सी जमीन छोड़ रखी थी. उनका मुख्य व्यवसाय श्री लंका से अनाज का व्यापार करना था और रामेशवरम आये तीर्थयात्रियो को एक जगह से दूसरी जगह ले जाना था जैसे की रामेश्वरम से पम्बन. और परिणामतः उनके परिवार को एक नया शीर्षक मिला “Mara Kalam Iyakkivar (लकड़ी की नव से मार्ग दिखने वाले)”, और ये नाम कुछ साल बाद छोटा होकर “Marakier” बना. मुख्य जगह पर… Read More »

Warren Buffett Biography In Hindi

Warren Buffett Biography In Hindi

Warren Buffett  का नाम आज दुनिया मैं सबको पता हैं, ये नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं, दुनीया इनको Warren Buffett  के नाम से कम और शेयर बाजार का खिलाडी का बादशहा इस नाम से ज्यादा जानती है, दुनीया मैं ऐसा कोई भी अखबार, टी. वी. चैनेल नहीं होगा जिसमे वॉरेन बफे की चर्चा नहीं होती होंगी. Warren Buffett  (August 30), 1930 को ओमाहा (Omaha), नेब्रास्का में पैदा हुए , एक अमेरिकी निवेशक (investor), व्यवसायी और परोपकारी(philanthropist) व्यक्तित्व हैं। उन्हें शेयर बाज़ार (stock market) की दुनिया के सबसे महान निवेशकों में से एक माना जाता है और वो बर्कशायर हैथवे (Berkshire Hathaway) कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) और सबसे बड़े शेयर धारक (shareholder) हैं  …Warren Buffett  के पिता शेयर बाजार मैं कारोबारी थे, बफे ने 11 साल की उम्र मैं अपने पिता के साथ शेयर बाजार मैं अपने कारोबारी जीवन की शुरुआत की… 13 वर्षकी उम्र में बफेट नें अपना पहला आयकर विवरण दायर किया और अपनी साईकिल के ३५ डालर को एक व्यय के रूप में घाटा दिया… 15 वर्षकी उम्र में उच्च विद्यालय (high school) के अन्तिम वर्ष में बफेट और उनके एक साथी नें 25 डालर में एक इस्तेमाल की हुई पिनबाल मशीन (pinball machine) खरीदी और उसे एक नाइ की दुकान में रख दिया….मात्र कुछ महीनों… Read More »

Narendra Modi’s Incredible Journey in hindi

great motivational story of Narendra modi,great motivational story of Narendra modi,success story in hindi,life in hindi, succes story in hindi, history in hindi, life in hindi,biography in hindi,

Narendra Modi आज हमारे  देश के  प्रधानमंत्री हैं। 2014 के चुनावों में उन्होंने अपनी नेतृत्व क्षमता की बदौलत  भाजपा (B.J.P) को पूर्ण बहुमत से विजय बनाया । आज मोदी जी ने अपने व्यक्तित्व से बच्चे बच्चे में देश के प्रति कुछ कर गुज़रने की भावना उत्पन्न की है तथा ये साबित कर दिया की अगर आप में जीतने की चाहत हो तो हालत और वक़्त कोई मायने नहीं रखता। Narendra Modi का जीवन बहुत ही साधारण तरीके से शुरू हुआ मगर अपनी मेहनत से उन्होंने असाधारण सफलता हासिल की। आज इस लेख (Article) में हम मोदी के चाय बेचने वाले दिनों से प्रधानमंत्री बनने तक के अद्भुत सफर (Amazing Journey and History of Narendra Modi) के बारे में जानेंगे। भारत की आज़ादी के तीन वर्ष बाद गुजरात (Gujarat) के एक छोटे से कस्बे, वड़नगर (Vadnagar) में नरेंद्र मोदी का जन्म हुआ। दामोदर दास मोदी और हीरा बा की 6 संतानों में से मोदी उनकी तीसरी संतान थे। उनका परिवार बहुत ग़रीब था और एक कच्चे मकान में रहता था। दो वक्त की रोटी भी बड़ी मुश्किल से मिलती थी। नरेंद्र मोदी की माँ आस पड़ोस में बर्तन साफ करती थी ताकि अपने बच्चों का पालन पोषण कर सके। उनके पिता रेलवे स्टेशन पर चाय की एक छोटी सी दुकान… Read More »

Success story of cadbury chocolate

inspirational stories in hindi , inspirational story in hindi , motivational stories in hindi , motivational story in hindi, success story , life story

18 वीं सदी के England  में ” quakers family ” नामक  समुदाय थे। ये लोग खुद को दोस्तों का धार्मिक समूह कहते थे इनकी अपनी मान्यताए ,परम्पराए और नियम तो थे लेकिन वह किसी चर्च या धार्मिक संस्था से नहीं जुड़े थे। ईश्वर और अपने बीच किसी अन्य की मौजूदगी उन्हें ना  पसंद थी। Europe की University  में इनके बच्चो को प्रवेश नहीं मिलता था और न ही इन्हे सेना में जाने का अवसर मिलता था ऐसे में Medical  , Engineering  या सेना का Career कवाकर्स युवाओ के लिए पहुंच से बहुत दूर था। जाहिर है Business ही  उनके लिए एक मात्र सुरक्षित रास्ता था ऐसे ही एक परिवार में १२ अगस्त १८०१ को Cadbury के संस्थापक John Cadbury का जन्म हुआ, John के साथ दिक्कत यहाँ थी की उनका परिवार शराब ,मॉस व् धूम्रपान आदि चीज़ो का बहुत ज्यादा विरोधी था। खुद जॉन की भी अपनी परंपरा और मूल्यों के प्रति गहरी आस्था थी इसलिए उस दौर के अन्य यूवाओ की तरह वह किसी भी इस तरह के  Business में हाथ नहीं डाल सकते थे। John  अपने स्कूली दिनों में Pocket money के लिए लिड्स के एक Coffee shop में काम करते थे। १८२४ में उन्होंने शराब पीने वालो को स्वस्थ के लिए हितकर Drink  उपलब्ध करने की सोच के साथ Birmingham इलाके में दो कमरो में… Read More »

जिंदगी संतुलन बनाए रखने का खेल है।

inspirational stories in hindi , inspirational story in hindi , motivational stories in hindi , motivational story in hindi, success story , life story

आपने सर्कस में तनी हुई रस्सी पर चलने वाले व्यक्ति को देखा होगा। जरा कल्पना कीजिए उस तनी रस्सी पर चलने वाले व्यक्ति की। गद्दे से ढकी फर्स से कुछ फुट ऊपर रस्सी पर एक व्यक्ति खड़ा है। उसका उद्देश्य रस्सी के एक छोर से दूसरे छोर तक चलना है। अपना संतुलन बनाये रखने के लिए उसके हाथ में डंडा है। उसने अपने कंधो पर एक कुर्सी संतुलित की है और उस कुर्सी पर एक महिला बैठी है जिसने अपने माथे पर एक छड़ को संतुलित की है और उस छड़ पर एक प्लेट रखी है। वह रस्सी पर चलने वाला व्यक्ति या कलाकार तब तक काम प्रारम्भ नहीं करता जब तक की उसके ऊपर रखी सारी चीज़े ठीक से जम नहीं जाती। इसके बाद हे वह धीरे धीरे और सावधानीपूर्वक दूसरे छोर पर जाने के लिए चलना प्रारम्भ करता है। लेकिन चलते चले अगर उसे महसूस होता है की संतुलन बिगड़ रहा है तो वह थोड़ा रुक कर फिर से संतुलन बनता है। उस रस्सी पर चलने वाले व्यक्ति के लिए संतुलन ही सबकुछ होता है। अगर वह संतुलन बनाए रखने में असफल हो जाए तो वह निश्चित ही गिर जाएगा। इसी तरह जिंदगी भी बहुत हद तक संतुलन बनाए रखने का खेल है… Read More »