इस गधे से कौन बहस करे

gadha-1

एक दिन एक बूढ़ा किसान अपने गधे पर सवार होकर आपने खेत से घर की और जा रहा था, तभी कुछ गाँव वाले उसको रास्ते में मिले ,उन्होंने उस बूढ़े किसान से पूछा की बाबा कहा जा रहे हो
बूढ़ा किसान बोला – घर जा रहा हूँ , तो गाँव वाले सोचने लगे और कहा की बाबा पर आप का घर तो उधर है दूसरी दिशा में , तो उस बूढ़े किसान ने जवाब दिया की मैं जनता हूँ की मेरा घर उस दिशा में है पर इस गधे से कौन बहस करे

सन्देशहममे से ज्यादातर लोग इसी तरह सोचते है की जिंदगी जहा भी ले जाये वह जाना पड़ेगा , फिर चाहे हमारे हालत कितने भी ख़राब क्यों न हो गए ,उन्हें  हालातो से समझोता कर लेना ज्यादा आसान लगता है बजाय उनसे लड़ने के